Friday, March 1, 2024
Friday, March 1, 2024
HomeBusinessअल-अब्दुल्ला ग्रुप (कतर) ने इलेक्ट्रिक व्हीकल स्टार्ट अप 'कबीरा मबिलिटी' में किया...

अल-अब्दुल्ला ग्रुप (कतर) ने इलेक्ट्रिक व्हीकल स्टार्ट अप ‘कबीरा मबिलिटी’ में किया $50 मिलियन डॉलर का निवेश

- Advertisement -

कबीरा मोबिलिटी जैसे प्रसिद्ध बाइक निर्मांता वाली कंपनी ने KM3000 और KM4000 मॉडल बाइकों के लिए इलेक्ट्रिक बाइक के निर्माण में तेजी लाने के लिए अपने निवेशक ‘अल-अब्दुल्ला ग्रुप (कतर)’ से एक अज्ञात वैल्यूएशन पर $50 मिलियन डॉलर का निवेश हासिल किया है।

इस निवेश से कबीरा मोबिलिटी अपने उत्पादों को बड़े पैमाने पर बाज़ार में उतारने के लिए सक्षम हो पाएगी । इससे कंपनी को अपनी डिलीवरी क्षमताओं को और तेज़ी से बढ़ाने में मदद मिलेगी। इस बढ़ी हुई क्षमता को एडजस्ट करने के लिए “कबीरा मोबिलिटी”अपने प्लांट में अपनी मैन्युफैक्चरिंग क्षमता को बढ़ाकर और उत्तर भारतीय बाजार की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए अपने मैन्युफैक्चरिंग बुनियादी ढांचे का विस्तार करेगी ।

इसके साथ ही कबीरा मोबिलिटी इस साल के अंत तक अपने स्टोर नेटवर्क को 30 से 100 तक बढ़ाकर पूरे भारत में अपनी उपस्थिति दर्ज करने की योजना पर काम कर रही है । इस रणनीति का उद्देश्य एक प्रीमियम रिटेल अनुभव प्रदान करना है। इससे कम्पनी की बिक्री ज्यादा होगी और बाजार मे हिस्सेदारी बढ़ेगी।

कंपनी में आगामी इलेक्ट्रिक बाइक मॉडल के लिए नए जमाने का पावरट्रेन और बैटरी पैक टेक्नोलॉजी का काम जारी है। कम्पनी का उद्देश्य कम एनर्जी ग्रहण करे और सबसे जरूरी सभी उत्पाद पर्यावरण के अनुकूल हो।

कम्पनी अपने KM5000, 330 किमी की रेंज वाली एक इलेक्ट्रिक क्रूजर बाइक भी जल्द ही लॉन्च करेगी। इसके अलावा KM3000 और KM4000 के प्रो वैरियंट भी लांच करेगी । इन दोनो वैरियंट में मिड-ड्राइव पावरट्रेन और इंडस्ट्री-लीडिंग विशेषताएं भी शामिल हैं। इन उत्पादों के लॉन्च से कबीरा मोबिलिटी का परफॉर्मेंस और डिजाइन से इलेक्ट्रिक बाइक सेक्टर और इंडस्ट्री मे ओहदा बढ़ सकता है ।।

इस इवेंट के दौरान कबीरा मोबिलिटी के सीईओ जयबीर सिवाच ने कहा, “कंपनी इलेक्ट्रिक बाइक इंडस्ट्री को आगे बढ़ाने के लिए अग्रणी कम्पनी बनने के लिए तैयार हैं। और पिछले पांच सालो से कंपनी पावरट्रेन और टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट पर R&D कर रही हैं। इस निरन्तर प्रयास से कंपनी को इलेक्ट्रिक बाइक सेगमेंट का लगभग 30% हिस्सा हासिल करने और अगले 2 सालों में एक इंडस्ट्री लीडर के रूप में उभरने में मदद मिलेगी।”

इस इवेंट में मौजूद अल-अब्दुल्ला ग्रुप के सीईओ मनोज जॉर्ज ने कहा, “भारत में अपार क्षमता है। आने वाले समय में भारत वैश्विक E2W बाजार के लिए मैन्यूफैक्चरिंग सेन्टर बनने के लिए तैयार है और कंपनी का उद्देश्य अक्षय ऊर्जा सेक्टर में निवेश करने और वैश्विक स्तर पर स्थायी मोबिलिटी सॉल्यूशन (गतिशीलता समाधानों) का सहयोग करना रहा है।

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR