Friday, March 1, 2024
Friday, March 1, 2024
HomeBusinessगुडगाँव रियल एस्टेट सेक्टर के लिए अच्छा साबित होगा 2024

गुडगाँव रियल एस्टेट सेक्टर के लिए अच्छा साबित होगा 2024

- Advertisement -

2024 में गुड़गाँव रियल एस्टेट सेक्टर के लिए एक उत्कृष्ट साल होने की संकेत मिल रहे हैं। शहर की विकास योजनाएं और व्यापक आर्थिक सुधार ने इस क्षेत्र में नए आवसरों का सृजन किया है। अधिकतम सुरक्षित समृद्धि और विकास के लिए उत्सुक निवेशकों की भारी संख्या है। गुड़गांव की आधुनिक सुविधाएं, सुरक्षित वातावरण और सुविधाजनक स्थान का माहौल निर्माण कर रहे हैं। नौकरी की बढ़ती मांग और व्यापार के लिए सुगमता गुड़गाँव को एक आकर्षक निवेश स्थल बना रही है।

प्रदीप अग्रवाल, फाउंडर और चेयरमैन, सिग्नेचर ग्लोबल (इंडिया) लिमिटेड ने कहा, “इसमें कोई संदेह नहीं है कि वर्ष 2024 रियल्टी सेक्टर के लिए अच्छा साबित होगा। जैसा की सर्व विदित है कि वर्ष 2023 गुड़गांव रियल एस्टेट सेक्टर के लिए शानदार रहा है। खास तौर पर साल के अंत में रियल एस्टेट सेक्टर में शानदार बढ़ोतरी देखी गई है। इसका कारण है कि रियल एस्‍टेट डेवलपर्स अफोर्डेबल और क्वॉलिटी घरों की बढ़ती मांग को पूरा कर रहे हैं। द्वारका एक्सप्रेसवे, न्यू गुरुग्राम और सोहना जैसे सेक्टर्स में अच्‍छे रेजिडेंशियल प्रोजेक्‍ट्स के चलते लोगों का रुझान यहां घर लेने की ओर बढ़ा है। अतिश्योक्ति नहीं होगी अगर कहा जाए कि सेक्टर 37 डी गुड़गांव एक प्रोमिसिंग लोकेशन की तरह सामने आया। यही कारण रहा है कि 2023 में सारी इन्‍वेंटरी पूरी तरह से खत्‍म हो गई है। इतना ही नहीं, लगातार रेजीडेंशियल और कमर्शियल दोनों प्रकार की प्रापर्टी की मांग भी बढ़ रही है। ऐसे में अब 2023 में रियल एस्टेट सेक्टर में हुए पॉजिटिव बदलाव को देखकर आगामी 2024 से उम्मीदें बढ़ गई है। माना जा रहा है कि सिर्फ 2024 ही नहीं बल्‍कि आने वाले चार से पांच साल रियल एस्‍टेट के लिए बेहतरीन रहेंगे।“

नयन रहेजा, रहेजा डेवलपर्स कहते हैं, ” हमें पूर्ण आशा है की 2024 गुड़गांव रियल्टी मार्किट के लिए अधिक पॉजिटिव होने वाला है। नए साल में प्रीमियम हाउसिंग सेगमेंट में अधिक तेजी देखने को मिलेगी। वर्ष 2023 में भारत में रियल एस्टेट सेक्टर ने अभूतपूर्व वृद्धि हासिल की है, विशेष रूप से लक्जरी हाउसिंग सेगमेंट में। भारतीय रियल एस्टेट क्षेत्र में विदेशों में रह रहे एनआरआई के इंवेस्टमेंट ने लग्जरी प्रॉपर्टी की बढ़ती मांग में अहम योगदान दिया है। एनआरआई के बढ़ते निवेश से प्रेरित दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र लक्जरी आवास की बिक्री के मामले में 216 फीसदी की जबरदस्त वृद्धि हुई है।”

रजत गोयल, मैनेजिंग डायरेक्टर, एमआरजी ग्रुप के अनुसार, “गुरुग्राम के रियल एस्टेट बाजार में बेंगलुरु और नोएडा को पीछे छोड़ते हुए उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। साल 2023 के दौरान सबसे ज्यादा प्रॉपर्टी के मूल्य की बढ़ोतरी देखी गई है। प्रॉपर्टी की कीमतों में वृद्धि के बावजूद, इस क्षेत्र ने मांग में 28.9 प्रतिशत की तिमाही-दर-तिमाही वृद्धि की है, जो राष्ट्रीय औसत से आगे है। दिल्ली-एनसीआर हाई-एंड रियल एस्टेट लेनदेन के केंद्र बिंदु के रूप में उभरा है, क्योंकि बड़े और भव्य आवासों की मांग बनी हुई है। साल 2024 से हमें उम्मीद है कि आगामी दिनों में यह सकारात्मक वृद्धि जारी रहेगी। गुरुग्राम एक संपन्न कमर्शियल और टेक्निकल सेंटर है, जो रेजिडेंशियल और कमर्शियल दोनों डोमेन में इन्वेस्टर्स को अपनी ओर आकर्षित करेगा जिससे रियल एस्टेट क्षेत्र में और वृद्धि होगी।”

मोहित गोयल, एमडी, ओमेक्स ग्रुप का कहना है, “2023 में टियर 1, 2 और 3 शहरों के रियल्टी सेक्टर में उल्लेखनीय प्रगति हुई है ऐसे में साल 2024 से भी उम्मीद बढ़ गई है। द्वारका, फरीदाबाद और लखनऊ, चंडीगढ़ जैसे शहर हाई एंड रेजिडेंशियल और कमर्शियल के लिए महत्वपूर्ण केंद्र के रूप में उभरे हैं। तेजी से हो रहा विकास इन स्थानों के आकर्षण को बढ़ा रहा है।

कुशाग्र अंसल, डायरेक्टर अंसल हाउसिंग का कहना है,“2023 में जो परिणाम देखने को मिले वह बहुत अच्छे थे और आशा है कि 2024 में भी रियल्टी सेक्टर अच्छे परिणाम देखेगा।”

अंकित कंसल, एमडी, एक्सॉन डेवलपर्स कहना है, “वर्ष 2022-23 रियल एस्टेट सेक्टर के लिए बेहतर साबित हुआ और इस क्षेत्र में विकास की गति लगातार बनी हुई है। जिसके चलते उम्मीद जताई जा रही है कि वर्ष 2024 भारतीय रियल एस्टेट के लिए और बेहतर साबित होगा। रियल एस्टेट सेक्टर की कामयाबी हेल्दी स्ट्रक्चरल पैरामीटर के साथ ही उत्साहित इकोनॉमिक आउटलुक द्वारा समर्थित होगी। शहरीकरण की उच्च दर, बुनियादी ढांचे में तेजी से निवेश और स्थिर ऋण दरें, ये सभी रियल एस्टेट सेक्टर में उछाल लाएगा। ग्लोबल इकोनॉमिक उतार चढ़ाव के कारण निवेशकों की रुचि रियल एस्टेट सेक्टर की ओर तेजी से बढ़ेगी। 2024 में टिकाऊ रियल एस्टेट का विचार भी वास्तविकता की ओर बढ़ता हुआ दिखाई देगा। डेवलपर्स और घर खरीदार दोनों अधिक समग्र दृष्टिकोण अपनाने के साथ-साथ इको फ्रेंडली और कम्युनिटी लिविंग को अपनाने की ओर आगे बढ़ेंगे। रेजिडेंशियल और कमर्शियल रियलिटी के साथ-साथ सेकेंड होम, हॉलिडे होम्स और अन्य संबंधित प्रॉपर्टी की मांग में उछाल देखा जाएगा। प्रकृति के करीब रहने और स्वास्थ्य एवं कल्याण पर अधिक ध्यान देने का विचार लोकप्रिय हो रहा है। बड़े डेवलपर्स अब इस क्षेत्र में प्रवेश कर रहे हैं जिससे इस सेगमेंट में खरीदारी को बढ़ावा मिलेगा। जो पहले से ही 22- 25% की सीएजीआर (चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर) से बढ़ रहा है।

सुरेंद्र कौशिक,एमडी, आर्यन रियल्टी इंफ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड कहना है, “भारत का रियल एस्टेट सेक्टर विशेषकर लक्जरी हाउसिंग सेगमेंट में साल 2023 शानदार रहा है। बदलती शहरी प्राथमिकताओं ने बड़े रहने की जगहों और लक्जरी लाइफ स्टाइल को प्राथमिकता दी है। आर्थिक विकास और बढ़े हुए एनआरआई निवेश के कारण लक्जरी होम्स की बिक्री में 216% की आश्चर्यजनक वृद्धि के साथ दिल्ली-एनसीआर सबसे आगे रहा। जैसे-जैसे हम वर्ष 2024 में प्रवेश कर रहे हैं, प्रीमियम हाउसिंग क्षेत्र की गति धीमी होने का कोई संकेत नहीं दिख रहा है।

राजेश के.सराफ, मैनेजिंग डायरेक्टर (एक्सिओम लैंडबेस प्राइवेट लिमिटेड) का कहना है, “गुरुग्राम का रियल एस्टेट सेक्टर साल 2023 में शानदार रहा है। उम्मीद है कि कमर्शियल रियल एस्टेट सेक्टर में यह ट्रेंड 2024 में भी बना रहेगा। कॉर्पोरेट हब के रूप में विकसित शहर ज्यादा से ज्यादा व्यवसायों को अपनी ओर आकर्षित करेगी। जिससे ऑफिस स्पेस की मांग में वृद्धि होगी। व्यावसायिक पार्कों और कार्यस्थलों के विकास से शहर की आर्थिक ग्रोथ में योगदान और कमर्शियल रियल एस्टेट प्रॉपर्टी की मांग को बढ़ावा मिलने की संभावना है। किफायती आवास की मांग साल 2024 में भी जारी रहने का अनुमान है। जो सरकारी नीतियों और डेवलपर्स द्वारा सुलभ आवास उपलब्ध कराने से संबंधित है। इस ट्रेंड से आबादी के एक बड़े हिस्से के लिए घर उपलब्ध कराने की संभावना है, जिससे रियल एस्टेट बाजार को बढ़ावा मिलेगा। पर्यावरण संबंधी जरूरतों के हिसाब से गुरुग्राम में रियल एस्टेट डेवलपर्स से उम्मीद है कि वे अपने प्रोजेक्ट्स में स्थिरता और ईको फ्रेंडली घरों को ज्यादा प्राथमिकता देंगे। और अपने प्रोजेक्ट में पर्यावरण-अनुकूल डिज़ाइन, ऊर्जा-कुशल सुविधाओं को बढ़ावा देने वाले घर बनाने पर जोर देंगे।“

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR