Friday, July 12, 2024
Friday, July 12, 2024
HomeIndia NewsPM मोदी आज शाम राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार विजेताओं से करेंगे मुलाकात, जानिए...

PM मोदी आज शाम राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार विजेताओं से करेंगे मुलाकात, जानिए क्यों मनाया जाता है शिक्षक दिवस

- Advertisement -

PM to Meet National Teacher Award Winners

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। शिक्षक दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 सितंबर, 2022 को शाम 4:30 बजे 7 लोक कल्याण मार्ग पर राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार, 2022 के विजेताओं से मुलाकात करने जा रहे हैं। पीएम मोदी  देश भर से चयनित किये गए 45 शिक्षकों से मुलाकात करेंगे। राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार का उद्देश्य देश के बेहतरीन शिक्षकों के अद्वितीय योगदान को सेलिब्रेट करना और उनका सम्मान करना है, जिन्होंने अपनी प्रतिबद्धता और कड़ी मेहनत से न केवल स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार किया है बल्कि अपने छात्रों के जीवन को भी समृद्ध किया है। आखिर पीएम मोदी ने इन शिक्षकों से मुलाकात करने के लिए आज का ही दिन क्यों चुना है? आज शिक्षक दिवस है और इस दिन से बढ़िया शिक्षकों के सम्मान के लिए और दिन क्या हो सकता है ? आईये जानते हैं कि क्यों मानया जाता है देश में शिक्षक दिवस?

देशभर से 45 शिक्षकों का चयन

राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार, प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत मेधावी शिक्षकों को सार्वजनिक मान्यता प्रदान करता है। इस पुरस्कार के लिए इस साल देश भर से 45 शिक्षकों का चयन तीन चरण की एक कठोर और पारदर्शी ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से किया गया है।

क्यों मनाया जाता है शिक्षक दिवस ?

आपको बता दें कि हर वर्ष 5 सितम्बर को भारत में डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिन शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। राधाकृष्णन जन्म दक्षिण भारत के तमिलनाडु के तिरुटन्नी में पांच सितम्बर 1888 को हुआ तथा इन्हें भारतीय दर्शन का इतना गहरा ज्ञान था कि इस विषय पर व्याख्यान देने के लिए दुनिया के कई देशों से इन्हें आमंत्रण मिलते रहता था। लोग इनके व्याख्यानों को बड़ी ही रुचि के साथ सुनते थे और भारतीय दर्शन के मर्म को समझते थे।

ब्रिटिश सरकार ने दी थी सर की उपाधि

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन आकर्षक व्यक्तित्व का सम्मान करने के लिए ब्रिटिश सरकार ने ”सर” की उपाधि प्रदान की। एक आदर्श शिक्षक के रूप में अपनी पहचान बनाने वाले स्वतंत्र भारत के द्वितीय राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने अपने जन्मदिन को ”शिक्षक दिवस” के रूप में मनाए जाने की घोषणा की, ताकि लोग शिक्षकों का सम्मान करें, उनके महत्त्व को समझें।

इसको भी पढ़ें:

इसे पढ़ें: राकेश झुनझुनवाला के निधन पर पीएम मोदी समेत देश की प्रमुख हस्तियों ने किया याद, आज शाम पांच बजे मालाबार हिल होगा अंतिम संस्कार
Connect With Us: Twitter | Facebook |Instagram Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR